self improvement kaise kare jane



हेलो दोस्तो 


आज हम सेल्फ इम्प्रूवमेंट के बारे में बात करेंगे।


Self improvement


सेल्फ इम्प्रूवमेंट यानी कि खुद को किसी भी कार्य मे इम्प्रूव करना या किसी भी कार्य में खुद को पहले से ज्यादा बेहतर बनाना। 


वैसे तो हर इंसान यही चाहता है कि वह खुद को और भी ज्यादा बेहतर बनाये परन्तु ऐसा करने के लिए उनको कड़ी मेहनत करनी पड़ती है और नियमो का पालन करना होता है। 



self improvement kaise kare jane
self improvement kaise kare jane




सेल्फ इम्प्रूवमेंट के बारे में उदहारण के साथ समझेंगे-


1) अच्छे लोगो को दोस्त बनाना


जब कोई व्यक्ति खुद को और ज्यादा improve करने का सोचता है तो उसको ये जरूर ध्यान रख लेना चाहिए कि उसके साथ दोस्ती करने वाले लोग किस स्वभाव के है। क्योंकि दोस्ती का ही अक्सर लोगो पर गहरा असर पड़ता है और वह खुद को दोस्तो की भांति ही ढाल देते है। इसलिए जितना ज्यादा हो सके अच्छे लोगो से मित्रता करनी चाहिए इससे आप और ज्यादा अच्छे बनोगे। 



2) सुबह जल्दी उठना


जो लोग अपने शरीर को फिट रखने के लिए कुछ करने की सोचते है या अपने शरीर मे किसी प्रकार की इम्प्रूवमेंट करने की सोचते है तो ऐसे लोगो को सुबह जल्दी उठने की आदत डालनी चाहिए। क्योंकि आजकल हर इंसान busy हो गया है और किसी के पास इतना टाइम नही होता कि वह शरीर को स्वस्थ रखने के लिए कुछ कर सके ऐसे में हमको सुबह ही समय मिल पाता है इसलिए हमको सुबह जल्दी उठना चाहिए इसके वजह से हम खुद को इम्प्रूव कर सकते है। 



3) रोज नया ज्ञान प्राप्त करना


ऐसा कोई व्यक्ति नही होता है जो सम्पूर्ण होता है। ऐसे में खुद को और ज्यादा इम्प्रूव करने के लिए हमको रोज नई नई जानकारी हासिल करनी चाहिए। जनरल नॉलेज की books और हर प्रकार की books को हमको पढ़ना चाहिए इसके सहायता से हमारे दिमाग मे और ज्यादा इम्प्रूवमेंट होगी और हमको रोज नया ज्ञान प्राप्त होता रहेगा। इसलिए हमको रोज किताबे पढ़नी चाहिए यह एक बहुत अच्छी आदत होती है। 



4)  पूरे दिन की योजना बनाना


जब हम सुबह उठते है तो हमको यह पता होना चाहिए कि हमको आज करना क्या है अगर हमको हम पता चल जाता है तो हम अपने लक्ष्य को पाने के एक कदम और बढ़ जाते है, और कई लोग ऐसा करते है कि सुबह उठने के बाद उनको ये तक नही पता होता की उनको आज क्या नया करना या सीखना है। ऐसे लोग इसी वजह से कामयाब नही हो पाते क्योंकि उनको अपने जीवन का लक्ष्य ही नही पता होता है। 



5) किसी भी कार्य को समझने का प्रयास करे


अगर मानलो कोई स्टूडेंट अपनी क्लास में बैठा होता है तो टीचर कुछ समझ रहा हो तो कई स्टूडेंट्स ऐसे होते है जो अपनी ही बातों में लगे रहते है हमको ऐसा नही करना चाहिए। हमको टीचर की बातों को ध्यान से समझना चाहिए और उस पर अमल भी करना चाहिए। और उनकी बातों को सुनके ठीक प्रकार से समझना चाहिए। इससे भी हमारा दिमाग  इम्प्रूव होता है और हमारी सोचने की शक्ति बढ़ती है। 



6) जीवन मे चुनोतियो का सामना करने से न कतराए


जीवन मे कई बार लोगो के सामने ऐसी चुनोतिया आ जाती है और हम उन चुनोतियो का सामना कर बिना ही उससे भागने लगते है हमको ऐसा बिल्कुल नही करना चाहिए हमको चुनोतियो का डट कर मुकाबला करना चाहिए तभी हमारी सारी मुश्किलें आसान होंगी और हमारे अंदर इम्प्रूवमेंट होगी 



निष्कर्ष


आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में हमको खुद को हर कदम पर या हर रोज इम्प्रूव करने की बहुत जरूरत है। हम इम्प्रूवमेंट ही हमको दुसरो से ज्यादा महान बनाती है। और जिंदगी में कुछ कर गुजरने का हौसला देती है। 




Post a Comment